शनिवार को लोहा , गाडी , कपड़े खरीदना अशुभ क्यों माना जाता है ,

shaniwaar ko kya krna chiaye

शनिवार को क्या शादी करना शुभ होता है आमतौर पर लोगो की कई सारी जिज्ञासा है और भ्रांतियां होती हैं कि शनिवार से संबंधित जुड़े तथ्यों पर लोग विश्वास और अंधविश्वास करते हैं जैसे कि शनिवार को लोहा लेना शुभ होता है या अशुभ या कोई कपड़ा खरीदना शुभ होता है या अशुभ कुछ ऐसे ही सवालों के जवाब में आज आपको बताने जा रहा हूं जो ना तो पहले किसी ने देखे हैं ना सुने हैं

सबसे पहले तो यह जान लें कि थावर की जो थापना बुद्ध कि जो  व्यापार यह कहावत सदियों से चली आ रही है कि किसी भी स्थाई चीज का मुहूर्त  शनिवार को करना सर्वश्रेष्ठ माना गया है जैसे नींव का मुहूर्त मकान का  मुहूर्त विवाह जैसे शुभ कार्यों का मुहूर्त स्थाई कार्य शनिवार के दिन करना  शुभ रहता है
शनिवार को क्या न करे

यह भी पढ़े =आज का राशिफल

1~ सबसे पहले तो यह जान लें कि थावर की जो थापना बुद्ध कि जो व्यापार यह कहावत सदियों से चली आ रही है कि किसी भी स्थाई चीज का मुहूर्त शनिवार को करना सर्वश्रेष्ठ माना गया है जैसे नींव का मुहूर्त मकान का मुहूर्त विवाह जैसे शुभ कार्यों का मुहूर्त स्थाई कार्य शनिवार के दिन करना शुभ रहता है
2~ शनिवार के दिन लकड़ी घर पर कभी ना लाए पुराना फर्नीचर पुरानी लकड़ियां कई लोग अपनी छतों पर डाल देते हैं जो बारिश में भीगती है उनको यह मालूम नहीं कि ऐसा करने से शनि का सबसे ज्यादा प्रकोप होता है इसलिए टूटी-फूटी लकड़ी फर्नीचर आदि घर दुकान में ना रखें और ना ही शनिवार के दिन लकड़ी खरीदें

सबसे पहले तो यह जान लें कि थावर की जो थापना बुद्ध कि जो  व्यापार यह कहावत सदियों से चली आ रही है कि किसी भी स्थाई चीज का मुहूर्त  शनिवार को करना सर्वश्रेष्ठ माना गया है जैसे नींव का मुहूर्त मकान का  मुहूर्त विवाह जैसे शुभ कार्यों का मुहूर्त स्थाई कार्य शनिवार के दिन करना  शुभ रहता है
शनि का साथ कैसे ले

3~नमक अगर आप शनिवार को घर जाते हैं तो समझ लीजिए घर में कर्ज लेकर आ रहे हैं आपको कर्ज़ होना शुरू हो जाएगा इसलिए शनिवार के दिन भूल कर भी ना खरीदें

यह भी पढ़े = बुरे सपनों का प्रभाव और हम

4~शनिवार के दिन तेल नहीं खरीदना चाहिए क्योंकि शनिवार के दिन तेल सनी भगवान पर चढ़ता है जिससे शनिदेव प्रसन्न होते हैं शनिवार के दिन शनि की प्रतिमा और तेल चढ़ाने से शनि का दुष्प्रभाव होगा और घर में बरकत होगी

5~शनिवार के दिन ना तो काली उड़द घर में लेकर आए ना ही उसे बनाए जब आप शनिदेव की पूजा करने जाएं तो काली उड़द जरूर से जरूर चढ़ाएं

6~चमड़े से बनी कोई भी वस्तु पर बेल्ट जूते बैक शनिवार के दिन घर पर खरीदकर ना लाए यहां तक कि अगर कोई मंदिर से चप्पल चुरा कर ले गया हो तो यह आपके लिए बहुत अच्छी बात है वह आप की परेशानी लेकर चला गया है आप निश्चिंत रहें

7~घर में बेकार पड़ा इलेक्ट्रॉनिक का सामान नहीं रखें इससे संदेश से संबंधित समस्याएं उत्पन्न होती है

न्यायधीश केबल न्याय करते हैं

शनिदेव

पक्षपात नहीं और ना ही अपनी ओर से बिना बाद दंड देते हैं जो आरोपी सिद्ध हो जाता है उसी को दंडित करते हैं फिर यह कैसे उम्मीद की जाएगी देवताओं के थी न्यायाधीश शनिदेव किसी व्यक्ति को डंडे कष्ट पिया वह दुख दे सकते हैं हां अगर आपके कर्म आचरण व्यवहार गलत है तो अपने किए को भुगतना तो पड़ेगा ही शनिदेव अपनी ओर से ना किसी को सुख देते हैं और ना ही किसी को दुख वह तो व्यक्ति का जैसा कर्म है वैसे उसे पुनः लौटा देते हैं यदि शुभ कर्म में है तो ऐश्वर्या धन धान्य समृद्धि यश व कीर्ति प्रदान करते हैं और अशुभ कर्म है तो कष्ट अभाव दुख और दरिद्रता प्रदान करते हैं

यदि शनिदेव इसी से नाराज हैं तो उसे कसू व दुखों को भोगना पड़ता है आइए जानते हैं कुछ विशेष बातों को इससे आप शनिदेव को खुश कर सकते हैं शनिवार का व्रत करें और गरीबों को सामर्थ्य के अनुसार भोजन कराएं तो समझे कि शनि कृपा से अन्न के भंडार आपको आपके लिए हमेशा खुले रहेंगे अगर जीवन भर इस नियम का पालन करते हैं तो उन्हें कभी धनसंपदा की कमी नहीं जो मछली का सेवन नहीं करते बल्कि मछलियों को खाना खिलाते हैं उसे शनिदेव हमेशा प्रसन्न रहते हैं और उन पर कृपा बरसाते हैं अगर आप प्रत्येक शनिवार मछलियों को दाना खिलाते हैं

माता पिता एवं शिशु को मां समान मानकर उनका सम्मान करेंगे तो सही देव की सदा कृपा बनी रहेगी पौधारोपण कर उनकी देखभाल करना तथा विशेषकर पीपल और बरगद के पेड़ की पूजा करने से सदैव खुश रहते हैं जो लोग अपने पितरों का नियमित श्राद्ध करते हैं सहदेव उनके कष्ट दूर करते हैं जो लोग शराब और मांस मछली से दूर रहते हैं साकारी भोजन का सेवन करते हैं शनिदेव से प्रसन्न होकर परिवार की मदद करते हैं नित्य स्नान एवं स्वच्छ वस्त्र पहन कर खुद को साफ करके रखने वालों पर शनि देव की विशेष कृपा रहती है

तो आप खुश किस्मत हैं जो लोग सफाई कर्मचारियों का सम्मान करते हैं उनकी आर्थिक मदद करते हैं सही दे विशेष कृपा उन पर बनाए रखते हैं आपने प्रयागराज के कुंभ मेले में देखा होगा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने सफाई कर्मचारी के पैर धोकर सेवा की थी माता पिता एवं शिशु को मां समान मानकर उनका सम्मान करेंगे तो सही देव की सदा कृपा बनी रहेगी पौधारोपण कर उनकी देखभाल करना तथा विशेषकर पीपल और बरगद के पेड़ की पूजा करने से सदैव खुश रहते हैं जो लोग अपने पितरों का नियमित श्राद्ध करते हैं सहदेव उनके कष्ट दूर करते हैं जो लोग शराब और मांस मछली से दूर रहते हैं साकारी भोजन का सेवन करते हैं शनिदेव से प्रसन्न होकर परिवार की मदद करते हैं नित्य स्नान एवं स्वच्छ वस्त्र पहन कर खुद को साफ करके रखने वालों पर शनि देव की विशेष कृपा रहती है दिव्यांगों की मदद करने से शनिदेव बहुत प्रसन्न रहते हैं

शनिदेव को कैसे खुश करे

दिव्यांगों की मदद करने से शनिदेव बहुत प्रसन्न रहते हैं ऐसे लोगों का रानी सदैव कृपा करते हैं क्योंकि शनि देव एक पैर से सनी सनी चलते हैं इसलिए आप भी तो दिव्यांगों की मदद करने की आदत डालने जीवनसंगिनी के साथ मारपीट करते हैं उनके साथ गलत विहार करते हैं और लोगों को शनिदेव कष्ट देते हैं उन लोगों को शनिदेव कष्ट देते हैं जो लोग जीवनसंगिनी का सम्मान करते हैं उन्हें कष्ट नहीं देते हैं अपने आप ही समस्या का समाधान बैठकर अवश्य निकालें हनुमान जी और कृष्ण श्री कृष्ण मानते हैं जो लोग भगवान श्री हनुमान जी और श्री कृष्णा को अप मैच टुडे बांधकर उनकी पूछना उपासना करते हैं शनी  लोगो  पर कभी विपत्ति नहीं आने देते हैं सदैव उनके मित्र बनकर रक्षा करते हैं

यह भी पड़े = कब होगा आपका विवाह

3 thoughts on “शनिवार को लोहा , गाडी , कपड़े खरीदना अशुभ क्यों माना जाता है ,

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *